Home शिक्षा शिक्षा और स्वास्थ्य

शिक्षा और स्वास्थ्य

0 second read
0
0
1,207

‘आज शिक्षा’ , ‘स्वास्थ्य ‘ और ‘अवसर’ ‘पूरे हैं’,’देश मे कुछ कर गुजरने के लिए’ ,

‘इसके बावजूद ‘-‘ हमारे बच्चे’ ‘ अक्सर अपराधों की ओर’ ‘आकर्षित क्यों हो रहे हैं’ ?

‘देश का बचपन’ ‘संस्कार विहीन क्यों ‘ ?’ केवल सख्त कानून ‘ ‘क्या करेगा ‘? सोचो ?

‘इस दौर के माँ बाप के पास’ , ‘बच्चों को सिखाने का समय नहीं’ , ‘ क्या करें ‘ ?

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In शिक्षा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…