Home जीवन शैली “शहरी लोग कितने गरीब हैं ग्रामवासियों के बनिस्पत “|

“शहरी लोग कितने गरीब हैं ग्रामवासियों के बनिस्पत “|

0 second read
0
0
1,167

“ग्रामवासी  का” “अपना  अनाज”,”अपना  आटा”,”अपना दूध”,” खुला  मकान”  ,

“खुली  हवा” , “पूरा  गाँव  उसका  परिवार”  , “मोटा  पहनना ” , “मोटा  खाना ” ,

“शहरी” – ” हवा  प्रदूषित “, “पानी  गंदा ” , “सांस  लेना  भी   मुहाल   है  सबका “,

“शहरी  लोग” -” कितने   गरीब   है   ग्रामवासियों   के   बनिस्बत  ”  “देख  लो ” |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In जीवन शैली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…