Home सुविचार ‘जो दिल को चोट पहुंचाए ,’ ‘अभिवादन करो उसका’ !

‘जो दिल को चोट पहुंचाए ,’ ‘अभिवादन करो उसका’ !

0 second read
0
0
1,195

‘जो  तुम्हारे  दिल  को  चोट  पहुंचाए ‘ , ‘उसे  याद  किसलिए  करना ‘ ?

‘सिर्फ   मुस्करा   कर   अभिवादन   करो ‘ , ‘ उसके   लिए   उसका ‘ ,,

‘कहो’ ! ‘आपने  खुद ‘ ‘आपसे   अच्छा  मित्र’  ‘ढूँढने  का  मौका  दिया’ ,

‘शुक्रिया आपका ‘,’अपनेपन  को  पहचानने  की’ ‘कुव्वत  बढ़ा  दी मेरी’  |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In सुविचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…