Home ज़रा सोचो ‘ जोड़ों का दर्द ‘ क्यों होता है -? जानिए और उपचार कीजिये ” |

‘ जोड़ों का दर्द ‘ क्यों होता है -? जानिए और उपचार कीजिये ” |

8 second read
0
0
1,156

गलत   जीवन    शैली ,   कैल्शियम   और   विटामिन  ‘ डी ‘   की   कमी ,   मौसम   में    बदलाव  ,  छमता  से  ज्यादा   श्रम  ,   करने  से  शरीर  के  जोड़ों  में   दर्द   शुरू   हो   जाता  है  |   

सही-सही  लाइफ  स्टाइल  अपना  कर  ,  छमतानुसार   काम  कर  , पौष्टिक  आहार  ले  कर  ,  नियमित  व्यायाम   करके  हम  जोड़ों  के  दर्द  से  स्वम  को  बचा  सकते  हैं  |       

:-  यदि  हम  निम्न    बातों  का  ध्यान  करें  तो  शायद  आराम  मिले  :-

1 ॰ तनाव  :- 

दर्द  का  एक  मुख्य  कारण  ‘ तनाव ‘  है  | जिससे  हमारी  मांस  पेशियाँ   अकड़   जाती  हैं  जिससे   दर्द   सताने   लगता   है  |

2 ॰  अधिक  देर  तक  बैठे   रहने  की  जीवन   शैली  :-

कंप्यूटर  के  सामने   अधिक   देर  तक   बैठ  कर   काम   करना  या   लगातार  बैठ  कर  ऑफिस   में    काम   करने  से   दर्द  होने   लगता   है  |

3.  गलत  पाश्चर  :- 

टी  वी  देखते  समय   गलत  तरीके  से  बैठ  कर   या  लेट   कर  ,  लेपटाप   पर  सही  पाश्चर  में  न  बैठ  कर   पढ़ने  और  लिखते   समय   भी  उचित  पाश्चर  पर   ध्यान  न  देने  पर  पेशियों  में    दर्द  होने  लगता  है  |

4.  व्यायाम  करने  का  गलत  तरीका  :- 

सही   जानकारी   के   अभाव   में    कभी  कभी  शरीर  की  छमता  से   अधिक   झुक   जाने   पर   दर्द   शुरू  हो  जाता   है  | हर  व्यायाम  का   निश्चित  समय  व   तरीका   होता   है | किसी  एक्सपर्ट   की   सलाह   मान  कर    सही   व्यायाम   करना   श्रेयकर   है  |

5.  जल्दी   काम   निबटाने   की   आदत  :- 

कुछ   लोग   अपने   काम   को   जल्दी   निबटाने  को  बेचैन   रहते   हैं  या  बहुत   से   लोग   हमेशा   स्वम  को    काम  के   बोझ  के   तले   दबा   महसूस   करते   हैं  जो   दर्द   का   एक   बड़ा   कारण   है  |  

6.   गहरी   और   लंबी   सांस   लें  ताकि  तन  और   मन   दोनों   काम   करते   समय   रीलक्स  [ आरामदेह ]  रहें  |

7.  मोटा   तकिया   लगाना  भी   दर्द   का   कारण   है  :

2″  इंच  तक  तकिया  या   कुशन  ठीक   रहता   है   |  कई  बार   लोग   अधिक   मोटा   तकिया   लगाते   हैं  जो    दर्द   का   मुख्य   कारण   है  और   सर्वथा   गलत   है  |

8.  रसोई   की    स्लैब   नीचे   होना  :- 

महिलाओं   को   काफी   समय   रसोई   में   काम   करना   पड़ता   है   ऐसे   में  नीची   स्लैब  होगी  तो   झुक   कर   काम   करना   पड़ेगा  | ज्यादा   देर   तक   झुक   कर   काम    करने   से   दर्द   हो   सकता    है   |  

9.  अधिक   समय   तक   ए  सी  में   रहना  :-

 अधिकतर   ए   सी  ऑफिस   होते   हैं  |  लगातार  ए  सी  में   बैठने   व   सोने   से  शरीर   में    दर्द   बढ़ता   है    |  घरों   में   भी   ए   सी   लगे   रहने   से   महिलाओं   में  भी   ढीलापन   पाया   जाता   है  और   दर्द   बढ़ने   की   संभावनाओं  से   इंकार   नहीं   किया   जा   सकता  |

10॰  गर्भावस्था  :- 

गर्भावस्था  में  वजन   बढ़ना  लाजिमी   है   तभी  इस   अवस्था   में  स्पाइन  थोड़ी   पीछे   की   ओर  जाती  है  जिसके  कारण  महिलाओं   की   कमर  और   गर्दन   दर्द   करने   लगती  है  |

11.  मोबाइल   पर   लंबी   बात  :-

क  ओर  सिर   घूमा  कर   कन्धे   और   गर्दन   के   नीचे  फोन   रख   कर   लंबे   समय   तक   बात   करने    से   कन्धों   और   गर्दन   का   दर्द   हो   जाता   है  |  कोशिश   करें   ईयरफॉन  लगाकर  ही  बात   करें  |

दि   समझदारी   से   कार्यशैली   को   सही   रक्खें   तो   दर्द   से   बच   सकते   हैं  अन्यथा   छोटी   उम्र   से    ही  दर्द   तुम्हारे   पीछे   चिपक   जाएगा   और  जीना    दूभर   हो   जाएगा   |

   

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In ज़रा सोचो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…