जम्मू- कश्मीर

0 second read
0
0
1,061

सुना  था ‘ पूरे  जम्मू- कश्मीर  में ‘ ‘ पुर  अमन  हिन्द  की   हकूमत ‘ ‘कायम  रहेगी ‘ ,

‘यह  सूबा’ ‘ हिन्द  का  चेहरा  बन  कर’ ‘ खिलखिलाता   रहेगा ‘, ‘अमन  बहाल  रहेगा’ ,

‘इन  शगूफों   से’  ‘ कुछ   होना    होता   तो ‘ ,  ‘कब    का    हो   लिया   होता    जनाब ‘,

‘अब   तो  गद्दारों   के   हलक   मे’  ‘ हाथ   डाल   कर   कसो ‘,  ‘हल   जरूर   निकलेगा ‘ |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In देशभक्ति कविता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…