Home राजनीति “चोरी में पकड़े जाओ ,रिस्वत दे कर छूट जाओ ,यही फार्मूला है” !

“चोरी में पकड़े जाओ ,रिस्वत दे कर छूट जाओ ,यही फार्मूला है” !

0 second read
0
0
1,138

‘उस  दे श   को   लूटने   में   कैसी   शर्म’ , ‘जहां  केवल  गधे  निवास  करते  हों’ ,

‘घास   डालो’ , ‘बेशर्मी   से   रगड़   डालो ‘ , ‘ डाकुओं   का   ये   ही   फलसफा   है ‘ ,

‘कानून  को  मुट्ठी  में  रखते  हैं ‘,’हर  महकमे  में  गांधी जी  धड़ल्ले  से  चलते  हैं ‘,

‘चोरी  करते  पकड़े  जाओ’ ,’रिस्वत दे कर  छूट जाओ ‘,’स्थिर  फार्मूला  है  उनका’ |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In राजनीति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…