Home कविताएं प्रेरणादायक कविता आपके शब्द ही आपका व्यक्तित्व है —

आपके शब्द ही आपका व्यक्तित्व है —

0 second read
0
0
1,428

‘शब्द”बेहद  निर्दयी’,’कटु ‘,’कठोर’  हों  तो  ‘बुरे  से  बुरा’  ‘प्रभाव  डाल  सकते  हैं’ ,

‘यदि शब्द’ ‘नम्र’, ‘प्रिय’,’विनोदी’  हैं  तो  ‘घाव  पर मरहम’ का  ‘काम  करते  हैं’  ,

‘तीखे  शब्द’  ‘मर्यान्तक  पीड़ा  देते  हैं ‘, तो ‘दिल  में  प्रेम  धारा  भी  बहाते   हैं ‘ ,

‘रूप’ ‘सब  में  अच्छा-बुरा  होता  है’,और  ‘वही  हमारे  व्यक्तित्व   का  स्वरूप  है ‘ |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In प्रेरणादायक कविता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…