Home जीवन शैली हमारी सनातन संस्कृति की झलक

हमारी सनातन संस्कृति की झलक

6 second read
0
0
1,242

ऋग्वेद के अनुसार जो अनाज खेतों
मे पैदा होता है, उसका बंटवारा तो देखिए…
.
.
1- जमीन से चार अंगुल भूमि का,
2- गेहूं के बाली के नीचे का पशुओं का,
3- पहली फसल की पहली बाली अग्नि की,
4- बाली से गेहूं अलग करने पर मूठ्ठी
भर दाना पंछियो का,
5- गेहूं का आटा बनाने पर मुट्ठी भर आटा चीटियों का,
6- चुटकी भर गुथा आटा मछलियों का,
7- फिर उस आटे की पहली रोटी गौ  माता की,
8- पहली थाली घर के बुज़ुर्ग़ो की
9- फिर हमारी थाली,
10- आखिरी रोटी कुत्ते की,


ये  हमें  सिखाती  है ,  हमारी  सनातन  संस्कृति  और…..
.
मुझे  गर्व  है  कि  मैं  इस  संस्कृति  का   हिस्सा  हूँ… ?

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In जीवन शैली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…