Home कैरियर सलाह सोच बड़ी रक्खो ,अच्छा करो , आनंदित रहोगे !

सोच बड़ी रक्खो ,अच्छा करो , आनंदित रहोगे !

0 second read
0
0
1,254

‘जैसा सोचोगे’, ‘वैसा पाओगे’, ‘छोटी सोच ‘ होगी तो ‘छोटा मिलेगा’ ,
‘बड़ी सोच ‘ होगी,”बड़ा मिलेगा,’ ईसीलिए ‘हमेशा बड़ा सोचो ‘ ,
‘बड़े सपने देखोगे’, ‘हमेशा बड़ा ही पाओगे’, ‘आनंदित रहोगे’ ,
‘सोच’- ‘छोटी हो या बड़ी,’ ‘ऊर्जा’ और ‘समय’ ‘बराबर खर्च’ होता है |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In सलाह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…