Home कोट्स Spirituality Quotes ‘सुविचार ‘ कृपया जरा सोचें ‘ | प्रेरणादायक विचार !

‘सुविचार ‘ कृपया जरा सोचें ‘ | प्रेरणादायक विचार !

4 second read
Comments Off on ‘सुविचार ‘ कृपया जरा सोचें ‘ | प्रेरणादायक विचार !
0
2,010

[1]

‘जब तक  इंसान  अपना / पराया , ऊंचा / नीचा ,मजहब  की  दीवारें  खींचेगा’ ,
‘ संकीर्णता  और  तंग -दिली’  से ‘ बच  नहीं  सकता  ‘,’ जाग्रति  नहीं  आएगी ‘ ,
‘ बैर’ ,  ‘ईर्ष्या ‘, ‘नफरत  की  दीवार ‘ , ‘ इंसानियत   पर  जुल्म  ढाती  जाएगी ‘ ,
‘ सबका  हो  कल्याण-‘सब  का  भला  करे  भगवान’ की ‘विधा का स्रजन  करो’ |

[2]

‘ मैं  सुख  की  नींद  सो  लिया ‘, ‘अब  प्रातः  की  लाली  है ‘,
‘आज किसी का अहित ना हो मुझसे ,ऐसी कृपा कर दो प्रभु ‘ |

[3]

‘किसी ने कान में जहर क्या भरा’ , वो सैकड़ों रिस्तों को खा गया ,’
‘ अगर  वो  अकेला  जहर  पी   लेता ,  तो  केवल   एक  ही  मरता ‘ |

[4]

‘सभी  गल्तियाँ  करते  हैं  ,  कहाँ  तक  गिनाओगे  बता ‘,
‘वो’  सब  कुछ  देख  रहा  है ‘, ‘सबका  हिसाब  कर  देगा ‘ |

[5]

गीता के अनुसार :-

‘ शरीर  मर  जाता  है , ‘ आत्मा   कभी   नहीं   मरती  ‘,
हाय कलियुग ! ‘ शरीर जीवित है और आत्माएँ मरी हुई ‘|

[6]

‘हर  विचार’ ‘जल  की  भांति  पारदर्शी  है’ ,’ जैसा  मिलाओगे  वैसा  ही  बन  जाएगा ‘,
‘विचारों में सुगंध मिलाओगे ‘तो ‘गंगाजल’,’ गंदगी मिलाओगे ‘ तो ‘नाला’ कहाएगा’ |

[7]

‘दुआ करनी है तो जरूरतमंदों के लिए कर ”हो सकता है’
‘ तेरी   दुआ  , ‘ किसी  के  लिए  रामबाण   बन  जाए  ‘|

[8]

‘मेरी विचार ‘:- ‘अहसास करो ‘-
‘न  तुम  किसी  के  हो  और  न  कोई  तुम्हारा  है ‘,
‘ बस  तुम  प्रभु  के  हो  ‘  ‘ और  प्रभु  तुम्हारा  है ” |

 

 

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Spirituality Quotes
Comments are closed.

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…