Home कोट्स Motivational Quotes ‘सच्चा प्यार’ खतम है इस ‘झूठे संसार’ से,’राम नाम’ के ‘मोती’ चुन ले ‘दाता’ के दरबार से ‘|

‘सच्चा प्यार’ खतम है इस ‘झूठे संसार’ से,’राम नाम’ के ‘मोती’ चुन ले ‘दाता’ के दरबार से ‘|

0 second read
0
0
442

[1]

जरा सोचो
‘सच्चा  प्यार’  खत्म  है  प्यारे  इस  झूठे  संसार  से,
‘राम’ नाम  के ‘मोती’ चुन  ले, ‘दाता’  के  दरबार  से !

[2]

जरा सोचो
‘ स्नेह ‘  का  सुबह  से  ही  ‘ परिवार ‘  में  ‘ प्रवेश ‘  होना  जरूरी  है,
‘उन्मुक्त  जीवन’ की ‘उत्कृष्ट  विधा’, ‘कलुषित  हवाओं’ को उड़ा  देगी !

[3]

जरा सोचो
न  किसी को ‘दबाओ’ न  खुद ‘दबो’, ‘लाजवाब’ बनकर  जियो,
‘कीचड़’  में ‘ पत्थर ‘  मारना,  किसी  को  ‘शोभा’  नहीं  देता !

[4]

जरा सोचो
‘बुलंद  आवाज’  ‘सच्चाई  का  गला’  घोट  सकती  है,  ‘झुठला’  नहीं  सकती ,
सच्चे  ‘मन  का  मौन’ असत्य  के  पहाड़  को ‘हिलाने’  की  क्षमता  रखता  है !

[5]

जरा सोचो
‘अच्छी  नियत’  किसी  का  ‘नसीब’  बिगड़ने  नहीं  देती,
‘हौसलों  की  उड़ान’ कमजोर  न  हो, इतनी  गुजारिश  है !

[6]

जरा सोचिए
‘अपनेपन’  से  बंधे  रहना  ‘उदासियों’  से  दूर  रखता  है,
मानवता  हेतु  ‘अपनापन’  ‘सर्वोत्तम’  विधा  स्वरूप  है !

[7]

जरा सोचो
‘प्रतिष्ठा  की  परिधि’  का  ‘स्तर’ , ‘ उच्चतम ‘  बनाए  रखना  चाहिए,
जो  भी  इससे  ‘विमुख’ रहा,’जीवन’  के  मानकों  में ‘कमजोर’  ही पाया  गया !

[8]

जरा सोचो
‘जिन्हें’  याद  नहीं  करना  पड़ता, ‘यादों’  में  बसे  रहते  हैं,
ये  ही  ‘स्नेह’  की  वास्तविक  ‘अभिव्यक्ति’  का  स्वरूप  है !

[9]

जरा सोचो
‘ उन्मुक्त  प्रेम ‘  की  धारा  बहा  कर  ‘ मीरा ‘  अमर  हो  गई  थी,
तुम भी ‘प्रेम’ को ‘उपासना’ समझ, अपने ‘आराध्य’ का ध्यान करो !


 

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Motivational Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…