Home कोट्स Motivational Quotes “ये भी आनंद लीजिये , समझदारी दिखाइये “|

“ये भी आनंद लीजिये , समझदारी दिखाइये “|

4 second read
0
0
1,077

[1]

‘जो  दिया  रात  भर  जलता  रहा ‘ ‘ तुम्हें  रोशन  करने  के  लिए ‘,
‘ लोग  इतने  निक्रतघ्न  हैं  ‘, ‘ दिल  निकलते  ही  बुझा  देते  हैं  ‘,
‘माता-पिता उस दीपक समान हैं’ ‘ताउम्र बच्चों की तामीर करते है’ ,
‘असहाय होते ही अनेकों कन्नी काट लेते हैं’ ,’ जीने नहीं देते उन्हें’ |

[2]

इंसान को  आजमाने  के  लिए’ ,’ ठोकरें  लगनी  जरूरी  हैं ‘,
‘राहों  में  कांटे  बिछे  होंगे’ तो  ‘मंजिल  कठिन  हो  जाएगी ‘,
‘दर-बदर की ठोकरें खा कर’ ‘जब  सफलता  कदम  चूमेंगी’ ,
‘इंसान चन्दन सरीखा महकेगा’,’पलकों पर बैठा लेंगे सभी ‘ |

[3]

‘लोग लेनदेन में बेईमानी करते हैं, बे-ईमान कहते ही लड़ने को तैयार ‘,
‘ यही   है  भगवान   की  माया  और  यही   है  कलियुग   का  स्वरूप  ‘|

[4]

‘मिट्टी  की  चिलम  बनाओगे’,’तो  सबको  जलाती  रहेगी  हर  घड़ी ‘,
‘मिट्टी -सुराही  में  ढल  गयी’,’इंसान  को  शीतल  बनाती  जाएगी ‘|

[5]

‘मान  लो’ और ‘ठान  लो’  में  जमीन- आसमान  का  अंतर  है ‘,
‘हार मान ली तो हार जाओगे ,’जीत ठान ली तो  जीत  जाओगे ‘|

[6]

‘ बोलने  से  ज्यादा  अगर  सुनने  कि  आदत  है  तुम्हारी ‘,
‘हर समस्या का हल मिल जाएगा ,कामयाब समझो खुद को ‘|

[7]

‘कुदरत  ने  हंसने  का  गुण  दिया  है  ‘फिर  भी  रो-रो  के  जीते  हो ‘,
‘ इस  जायदाद  को  बेहिसाब  बांटोगे ‘, तो  और  बढ़ती  जाएगी  ‘|

[8]

‘गलत को गलत कहने की हिम्मत नहीं ‘तो तुम भी गलत ही हो ‘,
‘सही  को  सभी  सही  कहते  हैं  इसमें ‘,कोई  खास  बात  नहीं  है “|

[9]

‘जब  भी  उभरने  का  प्रयास  किया’ ,’धड़ाम  से  नीचे  गिरा  दिया ‘,
‘हरबख्त  होंसले  बुलंद  बनाए  रक्खे’ , पंख  बिखरने  नहीं  दिये ‘|

[10]

मेरा  विचार :-
”  प्रभु   से   प्रार्थना   है   खुशियाँ   आपके   सबके   घर   पर   दस्तक   करें   ,

देर   तक   रुकें   और   जाने   से   पूर्व  आपके   पास   शांति  , प्रेम  ,  खुशी

और   स्वस्थ  वातावरण   छोड़   कर   जाएँ  ” |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Motivational Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…