Home कविताएं प्रेरणादायक कविता मुस्कराते रहने की सलाह देती नजर आती है वो !

मुस्कराते रहने की सलाह देती नजर आती है वो !

1 second read
0
0
1,106

ज़िंदगी की अनेकों उलझनों से गुज़रा हूँ मैं ,

अनेकों थपेड़ों ने तपा है मुझे अनेकों बार |

सांत्वना का रूप धार सामने आ जाते हैं वो ,

मुस्कराते रहने की सलाह देती नज़र आती है वो

धर्म-पत्नी सिर्फ धर्म-पत्नी |

 
Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In प्रेरणादायक कविता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…