Home कविताएं प्रेरणादायक कविता मीठा बोल और अच्छा व्यवहार बनाए रक्खो

मीठा बोल और अच्छा व्यवहार बनाए रक्खो

0 second read
0
1
1,554

*कभी हँसते हुए छोड़ देती है ये जिंदगी*
*कभी रोते हुए छोड़ देती है ये जिंदगी।*

*न पूर्ण विराम सुख में,*
*न पूर्ण विराम दुःख में,*
*बस जहाँ देखो वहाँ अल्पविराम छोड़ देती है ये जिंदगी।*

*प्यार की डोर सजाये रखो,*
*दिल को दिल से मिलाये रखो,*
*क्या लेकर जाना है साथ में इस दुनिया से,*
*मीठे बोल और अच्छे व्यवहार से रिश्तों को बनाए रखो*

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In प्रेरणादायक कविता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…