Home शिक्षा इतिहास “भारतीय संविधान पर एक नज़र ” !

“भारतीय संविधान पर एक नज़र ” !

0 second read
0
0
1,013

सभी    भारतीय    व्यक्ति    को    अपने    देश    के   संविधान    के    विषय    में   जानकारी    होनी    चाहिए   |   कृपया    निम्न    लिखित    बातों    पर   ध्यान  दीजिये  :—

{1}

1922   में   राष्ट्रपिता   महात्मा   गांधी  ने   मांग  की  थी  कि   भारत   का  राजनीतिक   भाग्य   भारतीय  स्वम  बनाएँगे  |  1924  में  पंडित   मोती 

लाल  नेहरू  ने  संविधान   सभा  के  गठन   की   फिर   मांग  की ,  लेकिन 

अंग्रेजों   द्वारा  उनकी   मांग   को   भी   ठुकरा   दिया   गया   गया   | तब   

से   संविधान   के   गठन   की   मांग   लगातार    उठती   रही  , लेकिन 

अंग्रेजों   द्वारा   इसे    हर   बार   ठुकराया    जाता    रहा  |

{2}

1939  में   कांग्रेस  अधिवेशन  में  एक   प्रस्ताव   पारित   किया  गया  , जिसमें   कहा  गया   कि   स्वतंत्र   देश   के   संविधान   के   निर्माण   के   लिए   संविधान  सभा   ही   एक मात्र   उपाय   है   और  अन्ततः   1940   में  ब्रिटिश   सरकार   ने   इस   मांग   को   मान   लिया   कि   भारत   का   संविधान   भारत   के   लोगों      द्वारा   ही   बनाया   जाए  |

{3} 

1942   में   क्रिप्स   कमीशन   ने   अपनी   रिपोर्ट   प्रस्तुत   की ,  जिसमें   कहा   गया   कि  भारत   में   निर्वाचित   संविधान  सभा   का   गठन   किया   जाएगा   ,  जो   भारत  का  संविधान  तैयार   करेगी  |

{4} 

संविधान  सभा   9  दिसम्बर , 1946  को   सच्चिदानंद   सिन्हा  कि   अध्यक्षता  में   पहली   बार   समवेत   हुई   थी  ,  लेकिन  मुस्लिम   लीग   ने   अलग  पाकिस्तान   बनाने  कि   मांग   को   ले   कर   इस   बैठक   का   बहिष्कार   किया  |

{5} 

11  दिसम्बर , 1946  को  हुई  संविधान   सभा  की    बैठक   में   डाक्टर   राजेंद्र  प्रसाद  को   संविधान  सभा   का  अध्यक्ष    चुना   गया  और  वे   संविधान   के   निर्माण   का   कार्य   पूरा   होने  तक   इस   पद   पर   रहे  |

{6} 

14 अगस्त ,  1947  को   भारत   डोमिनियन   को   प्रभुता   संपन्न   संविधान    सभा  पुनः  समवेत   हुई   और   29   अगस्त , 1947  को  स्वतंत्र   भारत   में  संविधान   सभा   द्वारा   संविधान   निर्मात्री   समिति  का   गठन   किया   गया  ,  जिसका   अध्यक्ष  सर्वसम्मति  से  डाक्टर   भीम   राव   अंबेडकर   को   बनाया   गया   |

{7} 

संविधान   प्रारूप   समिति   की   बैठकें   114  दिन  तक  चली  |

{8} 

संविधान  के   निर्माण   में   2  वर्ष   11  माह  18   दिन  का   समय   लगा |

{9} 

संविधान  के   निर्माण   कार्य   पर   कुल   63   लाख  96   हज़ार  729   रुपये         का   खर्च   हुआ  |

{10}

संविधान   के   निर्माण   कार्य   में  कुल  7635   सूचनाओं   पर  चर्चा   की   गयी  |

{11} 

26  जनवरी , 1950  को   भारत  का   संविधान    लागू   होने   के   बाद   से   अब   तक   हुए   अनेक   संशोधनों   के   बाद   भारतीय   संविधान   में   440   से   भी   अधिक   अनुच्छेद   व   12   परिशिष्ट   हो   चुके   हैं  |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…