Home कोट्स Spirituality Quotes ‘भगवान प्राप्ति कि इच्छा के बाद यस-अपयस कुछ नहीं रहता ‘

‘भगवान प्राप्ति कि इच्छा के बाद यस-अपयस कुछ नहीं रहता ‘

1 second read
0
0
1,177

 जिस  दिन  भगवान  को  पाने  की  इच्छा  जागृत  हो  जाएगी  उसी दिन  से  संसार   में  कुछ  भी  पाने  की  इच्छा  समाप्त  हो  जाएगी   | जब  हमें  संसार  में  मान-सम्मान , पद- प्रतिष्ठा  और  स्वम  की  तारीफ  अच्छी   ना   लगे  तब  समझना   चाहिए   कि  भगवान  को   पाने  कि  इच्छा  उत्पन्न   हुई  है  | जब  हम  भगवान  को  चाहते   हैं  तब  हमें  अपमान , दुःख  और  किसी  भी प्रकार कि  प्रतिकूलता   में  भी  प्रसन्नता  और  आनंद  का  अनुभव  होता है ” |

सौजन्य  से—–हरे  कृष्णा   !

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Spirituality Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…