Home कविताएं देशभक्ति कविता “ट्रैफिक नियमों का पूरा उल्लंघन होता है यहाँ ” !

“ट्रैफिक नियमों का पूरा उल्लंघन होता है यहाँ ” !

2 second read
0
0
1,185

“देश    मे   रोज़   अज़ब    नज़ारा    देखने   को     मिलता    है ” ,

“गाड़ी   सिग्नल   पर   खड़ी   है , पीछे   किसी   को   सब्र   नहीं “,

“हॉर्न   पर   हॉर्न” , “जहां  जगह   देखी  – गाड़ी   पार्क   कर   दी “,

“ट्रैफिक  ज़ाम” , “आड़ा-तिरछा  गाड़ी  खड़ी” , “होशियार  बनते हैं “, 

“ज़रा   सी   जगह    मिली ‘ , ‘गाड़ी   तुरंत   रफ्तार   पकड़   लेती   है ‘ ,

 ‘चाहे    गाड़ी “- “गाड़ी   में ‘ या   ‘खंबे  में ‘ ‘टकरा  जाए ‘, ‘होता   रहे ‘ ,

‘ट्रैफिक  सेंस ‘- ‘नानसेन्स    बन   गयी   है  ‘   ‘आज   हमारे   देश  में ,’

‘गाड़ी  चलना   सीखा  नहीं  ‘ , ‘ सिर्फ   उसकी   फीस   जमा   करा   दी’ ,

‘गाड़ी   दौड़ा    दी ‘ , ‘ लोग    सड़कों    पर    मरने    को    मजबूर    हैं ‘ ,

‘ड्राइविंग  लाइसेन्स  अनेकों  फर्जी ‘, ‘नियम  तोड़ने  वालों  की  भरमार’ ,

‘पुलिस   ट्रैफिक   की   धन -वसूली ‘ , ‘ एक  दिन   देश   को    डूबा   देगी ‘ ,

‘देश   में   कानून   बहुत   बने   है ‘, ‘पर   धज्जियां   उड़ाने   वाले   अधिक’ ,

‘देश   के   कर्णधारों’ ! ‘जागो’ ! ‘देश   का   कुछ  तो  भला  करने  की  सोचो’ ,

‘छोटी  कक्षाओं  से  ही’  ” जीवन  जीने  की  कला ”विषय  को  निर्धारित करो’ |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In देशभक्ति कविता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…