Home कोट्स Motivational Quotes “जीवन के नए-नए रंग ” कुछ छंद !

“जीवन के नए-नए रंग ” कुछ छंद !

2 second read
0
0
904

{1}

तुम्हारी याद आते ही आँखों में चमक आए” , “;ऐसा करम करो” ,
“तुम्हारे ख्याल से भ्रकुटि तन जाए “,” वह जीवन किस काम का ” ?

{2}

‘ संस्कारी  प्राणी  में  ” ‘ बड़प्पन का गुण  ” स्वम समा जाता है ‘,
‘दूसरों को अपना बनाने की क्रिया ‘,’बाएँ हाथ का खेल है उसका’ |

{3}

बोलना ” ऐसी “कला” है जो “मित्र ” भी बनाती है,”शत्रु ” भी बनाती  है ,
“कठोर – शब्द ” यदि ” मिठास  सहित ” है ,तो” सुप्रभात ” ले  आते  हैं ,
“मीठे शब्द” “कड़ुवाहट” से “कहे गए” हैं ,तो “विपरीत प्रभाव” डालते हैं,
“दोस्तों” – “बोलने की कला ” मे ” पारंगत ” बनो , “दुनियाँ “तुम्हारी है |

{4}

‘प्रेम’ और ‘ आस्था ‘ ” किसी  भी चीज  के  मोहताज  नहीं  होते” ,
“दोनों प्रकाश-स्तम्भ हैं” ,”जिसमें हो गया, बस हो गया समझो” |

 

{5}

“पिंजरे में बंद पक्षी को कौन पूछता है “,”आरजू-आरजू रहती है सदा” ,
“आज़ाद पक्षी बन हर मुडेर पर बैठ” , |”मौज मस्ती का जीवन बिता ” |

{6}

” जिस  दिन  तुम  अपनों  के  दर्द  को  पहचानने  लग  जाओगे “, 
“उनके काम आने लगोगे’,’जीवन जीने का अंदाज़ बदल जाएगा “|

{7}

” मुहब्बत  एक  मीठा  जहर  सरीखा  है ” ,” उसे  सभी  पीते  हैं ” ,
“कोई  जान  से  ज्यादा  प्यार करे”, “तो  कोई  क्या  करे उसका ” ?

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Motivational Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…