Home कोट्स Funny Quotes ‘जरा सोचें ‘जीवन के ये भी रंग हैं ‘ !

‘जरा सोचें ‘जीवन के ये भी रंग हैं ‘ !

3 second read
0
0
1,101

[1]

‘संतजन’- ‘मानवता’,’प्यार’,’सदभाव’,’एकत्व’,’भाईचारे’ का ‘प्रदर्शन करते हैं ‘,
‘वो किसी को पीड़ा नहीं देते’,’शोषण नहीं करते’,’निरंकार रह तल्लीन रहते हैं’ |’

[2]

मेरा विचार :-
” सदा – उन   लोगों   से   अन्तर   बनाए   रक्खो   जो   तुम्हें   सदा   गलत   साबित 

करने   का   प्रयास   करते   हैं  “|

[3]

‘आजकल ‘आंसूँ बनावटी’ तो ‘मुस्कान भेदभरी’ नज़र आती है ‘,
‘ मुकम्मील   इन्सान  की  पहचान  अब  बहुत  टेढ़ी  खीर  है ‘|

[4]

‘जीवन  में  अपेक्षाएँ  कभी  किसी  से  मत  करो’ ,
‘ये  सिर्फ  दर्द  देती  हैं ‘, ‘आराम  भाग  जाता  है’ ,
‘जब  अन-अपेक्षित  वस्तु’ ‘झोली  में  डलती  है’ ,
‘वो  खूब -सूरत  लम्हा’ ‘बयां  नहीं  होता  कभी ‘|

[5]

“आईना साफ करके धूल झाड़ता रहा सारी उमर ‘,
‘चेहरे  पर  जमी  काई ”नज़र  नहीं  आई  कभी “|

[6]

‘दोस्तों ! फैसला करो तुम सदा खुश रहोगे’ और ‘दूसरों को भी खुशी दोगे ‘,
‘ सुराही  स्वम  शीतल  रहती   है ‘,’दूसरों  को  शीतल  बनाए  रखती  है ‘|

[7]

मेरा विचार :-
” कोई   ऐसा   कार्य   मत   करो   जिसको   लगातार   करने   का   पागलपन 

 मन   पर   सवार   हो   जाए  |  हो   सकता   है   आज   आप   अव्यवस्थित  हों

और   कल   आप   व्यवस्थित   हो   कर   काम   करने   लगें  ” |

[8]

‘सपने जरूर देखें ये अनेकों बार टूटते भी हैं ,घबराओ मत कभी ‘,
‘अपने हौसलों को पंख लगा कर आगे बढ़ते रहना ही ‘जिंदगी’ है ‘|

[9]

‘मैं  दीपक  हूँ’ ‘अंधेरा  मिटाने  का  प्रयास  करता  हूँ ,शांत  रहता  हूँ ‘,
‘हवा’  मुझे  मिटाने  को  बेचैन रहती है ,मैंने क्या बिगाड़ा है उसका ‘?

[10]

‘मतलब निकल गया तो अब तुम किसके  क्या लगते  हो ‘?
‘मिनटों  में  खाक  कर  देंगे  तुझे  और  भूल  जाएंगे  सभी ‘

[11]

‘ भीड़   में  सभी  व्यक्ति  भले  हों  यह  गारंटी   नहीं  ‘,
‘यह भी सच है भले आदमियों की भीड़ भी नहीं होती ‘|

[12]

‘अपनों  से  झगड़ा  हो   जाए  तो  हार  जाना  चाहिए ‘,
‘ मनमुटाव  फौरन  खतम  ,आनंद   ही  आनंद  है  ‘|

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Funny Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…