Home कोट्स Funny Quotes ‘गल्ती सुधारें,कर्मकार बनें,सहनशील बनें,किसी के काम आते रहें ‘ |

‘गल्ती सुधारें,कर्मकार बनें,सहनशील बनें,किसी के काम आते रहें ‘ |

0 second read
0
0
934

[1]

‘सोचो  मत  आगे  बढ़ो’,
‘अब  इंतज़ार  के  मौसम  गए ‘,
‘जिंदगी  हर  पल  घटते  रहने  का,
‘इशारा  रोज़  करती  है ‘|

[2]

‘दूसरों  की  गल्ती  छमा  करना ,
‘भूल  सुधारना  , बेहद  कठिन  है ‘,
‘दंड  तो  कोई  भी  दे  देगा ,
‘सिर्फ  अहं-भाव  की  जरूरत  है ‘|

[3]

‘अपनी  गल्तियों  से  सबक  सीखो ‘,
‘पुनराव्रत्ति  से  बचो ‘,
‘गल्तियों  के  शहज़ादे  एक  दिन’ ,
‘नष्ट  हो  ही  जाते  हैं ‘|

[4]   

‘दुःख  का  कोई  खरीदार  नहीं  होता’,
‘कर्मानुसार  पधार  जाता  है’,
‘सुख’  एक  मन  की  अनुभूति  है’,
‘चाहे  जब  आज़मा  लेना ‘|

[5]

‘हम  दिल  साफ  रखते  है  परंतु , लोग  चेहरा  देख  कीमत  लगाते  हैं ‘,
‘दोमुखे  चेहरों  की  भरमार  है ,  हकीकत  कुछ  भी  नहीं ‘|

[6]

‘लम्हों  की  तरह  आओ ,
‘सदियाँ  बीत  जाने  पर  जाना ‘,
‘बहुत  कुछ  कहना / सुनना  बाकी  है ,
‘अरमान  पूरे  होने  दो ‘|

[7]

‘तुझे  फुर्सत  मिले , इस  इंतज़ार  में  फुर्सत  से  बैठे  हैं ‘,
‘कुछ  अपनी  कह  देते, कुछ  तुम्हारी  सुन लेते, इतनी  तमन्ना  है’|

[8]

‘किसने  कहा  ‘सब्र  और  सहनशीलता’,
‘कमजोरी  की  श्रेणी  है ‘,
‘ये  अंदरूनी  ताकत  का  खजाना’,
‘हर  किसी  के  पास  नहीं  होता ‘|

[9]

 ‘अपनी  गल्तियों  पर  हँसे  लेकिन  कुछ  सीखते  भी  जाएँ’,
‘उलझनें  जीवन  का  हिस्सा  हैं ,  बस   सुलझाते   जाईये’|

[10]

 ‘सब  के  दिलों  में  बसता  हूँ ,
‘इसे  मेरी  आदत  समझ ‘,
‘इसी  को  इबाबत  भी  समझ ,
‘कोई  इसे  इश्क  समझे  तो  समझे ‘|

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Funny Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…