Home कोट्स Motivational Quotes ” खुद की सोच ” उत्तम बनानी चाहिए !

” खुद की सोच ” उत्तम बनानी चाहिए !

2 second read
0
0
1,213

[1]

‘अर्जित  ज्ञान – अनेकों  काल  से  मनुष्य  का  साथ  निभाता  आया  है’, ‘
‘ज्ञान से बड़ी कोई दौलत नहीं”इसे कमाने वाला आदमी बेकार नहीं होता ‘|

[2]

‘मजहब  की  दीवार  चौड़ी  होती  जा  रही  है  देश  में ‘,
‘इंसानियत को  नोंच  डाला  है इन  बहशी  दरिंदों  ने ‘|

[3]

‘कोई  याद  न  करे  तो  बुरा  मत  मानिए ‘,
‘बस  शांत  रहिए ‘,
‘मोमबत्ती  तभी  याद  आती  है’, 
‘जब  घर  में  अंधेरा  हो ‘|

[4]

‘न  सहारा  रोज़  मिलता  है  , न  प्यार  करने  वाला  कहीं  ‘,
‘जो भी मिला उसे प्रभु का प्रसाद समझ ‘कदम बढाता चल ‘|

[5]

‘आज  का  मौषम  खराब  है’ ,
‘कल  गुलबहार  भी  हो  जाओगे ‘,
‘मंज़िल  का  मुसाफिर  थक  गया  तो’ ,
‘जीने  का  आनन्द  खतम ‘|

[6]

‘ तुम  हमें  सीधा  समझ  कर  ठोक  देते  हो’ ,
‘टेढ़े  से  बचते  हो  ‘,
‘मौका  देख  कर  पासा  पलट  देते  हो’ ,
‘गजब  इंसान  हो ‘|

[7]

‘अगर  एक-दूसरे  की  गल्ती  ढूंढते  रहे’,
‘रिस्तों  का  गुलिस्ता  सूख  जाएगा ‘,
‘विश्वास’  का  पुल  बनाता  चल’,
‘दूरियाँ’  स्वम  घटती  जाएंगी ‘|

[8]

‘प्रेम , दया ,करुणा ,धार्मिक  आचरण’,
‘संतों  और  गुरुजनों  की  पहचान  है’,
‘हालात कैसे  भी  हों ‘वो’ हर  मानव  को’ 
‘गले  लगाने  में  देर  नहीं  करते ‘|

 

 

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Motivational Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…