Home कैरियर कैरियर –सलाह मानिए

कैरियर –सलाह मानिए

0 second read
0
0
1,223

‘पेट  भरा  हो’  तो ‘ पकोड़े  मत खाइये ‘ ,  ‘अपना  विवेक  जगाईये ‘ ,

‘शाकाहारी  भोजन  त्याग ‘, ‘मन  को ‘ ‘कब्रिस्तान  तो  मत  बनाइये ‘,

‘खान- पान   में  शुद्धि   नहीं  तो’   ‘घर  में  शुद्धि ‘  ‘कहाँ   से  आएगी ‘ ?

‘मन  की  पसंद  त्यागो ‘, ‘जितनी  भूख उतना  खाने की’ ‘आदत  बनाइये’  |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In कैरियर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…