Home कोट्स Motivational Quotes “कुछ छंद जो जीवन के करीब हैं “

“कुछ छंद जो जीवन के करीब हैं “

2 second read
0
0
1,065

[1]

इंसान  इंसान  का  बैरी’ ,” इंसान  इंसान  दे  दूर”, “यह  कैसा  मंज़र  आया  है” ,
‘न मन’,’न वाणी’,’न व्यवहार सुधारा’ ,’जीवन  में  सुंदरता  कैसे  आएगी  बता’ ?

[2]

“राधा- मैं  केवल  तुम्हारा  नहीं” ,”हर  प्राणी  के  प्राणों  में  निवास  करता  हूँ “,
” जितने  दीवाने  हैं  मेरे ” ,” मैं  उनसे  ज्यादा  उनमें   ही  निवास  करता  हूँ ” |

[3]

“मानव  दौलत  गिनता  है”,”कल  कितने  थे  आज  कितने  बढ़  गए” ,
“धर्मराज साँसे गिनते हैं”,”कल कितने थे”,”आज कितने कम हो गए” ,
“साँसों की कीमत  समझ”, “अहं  से  बच”,”सुमिरन  में  ध्यान  लगा” ,
“कौन जाने” ‘, “कौन घड़ी”,”धर्मराज  का  बुलावा  आ  जाए  तेरे  लिए ” |

[4]

“गीता  केवल  उपदेश  नहीं” , “उपचार  भी  है” ,
“गीता आस्था ही नहीं” ,” जीवन पद्धति  भी  है” ,
“गीता सोच  नहीं “,” चिंतन और  दिशा  भी  है” ,
“गीता में निहित” ” निष्काम कर्म का संदेश है” |

[5]

“जिधर देखो इंसान रोज़ टेढ़ी- उल्टी चलें चल कर जी रहा है , जबान का कसैलापैन जाता ही नहीं “,

“छोटी   सी   जिंदगी   का   छोटा   सा   सफर   है  “, ” मिठास   से   क्यों   नहीं   जीता   उसे ”  ?

[6]

“यदि  सहायता  करने  में  कोई  शर्त  शामिल  हो  गयी “,
“तो !” इससे  बड़ा  अपराध “,”कहाँ  मिलेगा  जरा  बता ” ?

[7]

“अगर  घर  में  अंधेरा  है” ,” मंदिर  में  दीया  जलाया  तो  क्या  किया ” ?
“कुछ कर्म कर के दिखा”,” घर का दीया जला” ‘घर भी तो एक मंदिर है” |

[8]

“जो   दिल  की  हकीकत  नहीं  समझता” ,” कौन  कहता  है  वो  आशिक  है” ?
“याद रखना” ! ” सच्चा प्यार करने वाले सभी” “कयामत की नज़र रखते हैं” |

[9]

“मैं  भी  झुकता  हूँ “,” रिस्तों  को  निभाने  का  शऊर  है  मुझको “,
“कुदरत मेहरबान है मुझ पर””हर शै को झुक कर सलाम करता हूँ” |

[10]

” सदा  अच्छी  सोच  रक्खें  “, ”  जिंदगी  को  नया  रूप  मिल  जाएगा  “,
“अच्छी सोचवाले स्वस्थ,खुश रहते है”,”समाज में उपस्थ्ति दर्ज़ कराते है” |

 

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Motivational Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…