Home ज़रा सोचो “किसी को रास्ते में भीख न दें” “अन्यथा उलझन में पड सकते हैं “|

“किसी को रास्ते में भीख न दें” “अन्यथा उलझन में पड सकते हैं “|

10 second read
0
0
352

VERY IMPORTENT

कृपया  किसी को  भीख   न  दें  अन्यथा आप उलझन में  पड   सकते  हैं |

[श्री बी  एस   बस्सी , पुलिस  कमिश्नर  , क्राइम  ब्रांच  के  अनुसार ] 

सावधान…
अगर   आप   कहीं   बस   या   ट्रेन   के   सफ़र   में   हो   और आपके   पास   कोई   भिखारी   आ  कर   खाना   मांगे   तो   आप   खाना   देने  का कष्ट   ना   करे   वरना   ये   दरियादिली   आपके   लिए   मुसीबत   बन   सकती   है..


जी   हां   आजकल   ऐसे   ट्रैंड   भिखारियों   के   गैंग   चल   रहे   है   जो   आपसे   खाना   मांगते   है   और   ज्यों   ही   उनका   कोई   सदस्य    उसमें से   कुछ   खाता   है   वो   मुंह   से   जाग   निकाल   के   तड़पने   का   नाटक   करने लग   जाता   है   और   गिरोह   के   अन्य   सदस्य   मारपीट   पे   उतर   आते   है   और   पुलिस   केस   में   फ़ंसाने   की   धमकियां   देते   है  ।   इनकी   सेटिंग   वहां   के   पुलिस   वालों   से   भी   होती   है   और   आप   से   जबरन   एक   मोटी   रकम वसूल   सकते   है  …अच्छा   होगा   कि   आप   बचा   हुआ   खाना   किसी   कुत्ते  को डाल   दे  ।

अगर   आप   रात   में   गाड़ी   चला   रहे   हैं   और   कोई   आपके   WIND  SCREEN   पर   अंडे   फेंके   तो   कार   की   जांच   के   लिए    रोकें   नहीं  , वाइपर   संचालित   भी   ना   करें   और   किसी   भी   तरह   का   पानी विंड स्क्रीन   पे   ना   डाले  ,  क्योंकि   अंडे   के   साथ   मिश्रित   पानी   दूधिया  बन जाता   है   और   आपकी   दृष्टि   को   92.5%   तक   के   लिए   ब्लॉक   कर   देता   है और   फिर   आपको   मजबूरन   गाडी   को   सड़क   के   बगल   में   बंद   करना  पड़ता   है   और   फिर   आप   पहले   से   घात   लगाये   बैठे   अपराधियों   का   शिकार   बन   जाते   है  । यह   एक   नई   तकनीक   है   इसका   प्रयोग   आजकल हाईवे   पे   अपराधिक   गिरोहो   द्वारा   किया   जाता   है   कृपया   अपने   दोस्तों   और   रिश्तेदारों   को   जरुर   सूचित   करें  ।

पोस्ट   को   ज्यादा   से   ज्यादा   शेयर   करके   जागरूकता   फैलाएं ।.

B.S. Bassi
Police Comm 
S. K singh
All India crime 
(9426189079)

प्रिय  मित्रों …. सोचो   ये   मेसेज   सब   तक  पहुँचाना   कितना   जरूरी   है  !
आपके  सिर्फ   भेजने   से   आपके   सब   दोस्त  भी   इसे  पढ  सकते है.. ??

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In ज़रा सोचो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

‘जीवन के मूल्यों पर कुछ टिप्पणी जो सभी से मिलती हैं ” |

[1] ‘हमारी  काया  मिट्टी  की  और  महल-मीनारों  की  बात  करते  हैं ‘, ‘सा…