Home Uncategorized ‘अयोध्या में राम मंदिर कुछ ऐसा होगा ‘!’ देखिये ‘ !

‘अयोध्या में राम मंदिर कुछ ऐसा होगा ‘!’ देखिये ‘ !

3 second read
0
0
1,745

अयोध्‍या में बन रहा राम मंदिर दिखेगा कुछ ऐसा  :-

अयोध्या   में   मंदिर   बनेगा   या   मस्जिद  ,  इस   बात   को   लेकर   लम्बे   समय से   विवाद   चल   रहा   है  ।  ये   एक   ऐसा   मुद्दा   है  ,  जिस   पर   आज   तक   कई बार   बहस   हुई   लेकिन   कोई   भी   बहस   अपने   मुकाम   तक   नहीं   पहुंच पाई।

6 दिसम्बर, 1992   वो   तारीख   थी   जब   अयोध्या   में   बाबरी   मस्जिद   का विवादित   ढांचा   गिराया   गया   और   तब   से   लेकर   आज   तक   ये   तय   नहीं हो   पाया   है   कि   आखिर   वहां   पर   मस्जिद   बनेगी   या   मंदिर  ।  6 दिसंबर  को   अयोध्या   में   जुटे   कार  सेवकों   ने   बाबरी   मस्जिद   की   हर   एक   ईंट   गिरा   दी  ,   जिस   पर   धार्मिक  ,  साम्प्रदायिक   हर   तरह   की   बातें   हुई  और सभी   लोगों   ने   अपने   अलग-अलग   मत   रखें  ।   किसी   ने   इसका   समर्थन किया   तो   किसी   ने   विरोध   किया । 

अयोध्या   में   इस   ज़मीन   पर   क्या   बनना   लीगल   है   और   धर्म   संगत   है  । इस   बात   को   लेकर   1949   से   शुरू   हुआ   मुकदमा   40   साल   जिला  अदालत में   चला   और   फिर   20   साल   हाईकोर्ट   में   इसकी   सुनवाई   चली   और   अब ये   मुकदमा   सुप्रीम   कोर्ट   में   पिछले   7   सालों   से   फैसले   के    लिए   इतंज़ार में   है  ।

गिराई   गई   मस्जिद   की   जगह   पर   अब   मंदिर   बनेगा   या   फिर   दोबारा मस्जिद  ,  ये   जवाब   सभी   जानना   चाहते   हैं   लेकिन   कोर्ट   ने   5  दिसंबर 2017   को   एक   बार   फिर   से   सुनवाई   की   तारीख   को   आगे   बढ़ाते   हुए   इस    जवाब   के   इतंज़ार   को   और   बढ़ा   दिया   है  ।

कोर्ट   ने   अगली   तारीख   फरवरी   2018   की   दी   है   तो   कोर्ट   की   तरफ   से तो   अभी   कुछ   फाइनल   नहीं   हुआ   है   कि   आखिर   वहां   मस्जिद   बनेगी  या मंदिर ,   लेकिन   विश्व   हिंदू   परिषद   और   बजरंग   दल   ने   अपनी   तरफ   से इस   बात   का   फैसला   पहले   ही   कर   दिया   है   कि   अगर   मंदिर   बनेगा   तो वो   कैसा   दिखेगा  ,   मंदिर   की   दीवारों   से   लेकर   साजो-सज्जा   तक   सभी कुछ   इन्होंने   निर्धारित    कर   लिया   है  ।

ये   पढ़  कर   आपके   दिमाग   में   भी   ये   सवाल   उठ   गया   होगा   कि   अगर वहां   राम  मंदिर  बनेगा   तो   कैसा   बनेगा   तो   चलिए   मैं   आपको   बता   ही   देता    हूं   कि   विश्व   हिंदू   परिषद   और   बजरंग   दल   इस   संदर्भ   में   क्या  मत रखते   हैं  ।

आइए   आपकी   जिज्ञासा   को   और   ना   बढ़ाते   हुए   जान   ही   लेते   हैं  ।

विश्व   हिंदू   परिषद   की   ओर   से   प्रस्तावित   ये   मंदिर   पूरी   तरह   से   शिल्प कला   पर   आधारित   होगा  ।   शिल्प   शास्त्र   के   आधार   पर   ही   इस   मंदिर  का ताना- बाना   बुना   जाएगा  । इस   मंदिर   का  नक्शा   बनाने   के   लिए  गुजरात  के वास्तुकार   चंद्रकांत   सोमपुरा   कार्य   करेंगे  ।   ये   एक   बहुत   ही   प्रसिद्ध शिल्पकार   हैं  और   इन्हें   नक्शे   बनाने   के   काम   में   महारथ   हासिल   है  ।

इन्होंने   जो   नक्शा   बनाया   है  , उसके   आधार   पर   मंदिर   में   नीचे   वाले   तल पर  राम  जी   की   मूर्ति   रहेगी   और   ऊपर   वाले   तल   पर   राम   दरबार   रहेगा । ये   मंदिर   दो   मंजिला   होगा  ।   ये   मंदिर   पांच   हिस्सों   में  बंटा   होगा  और उसी  हिसाब   से   इसमे   अंदर  जाने   के   लिए   भी   पांच   दरवाजें  होंगे  ।   इस मंदिर   के   अलग-अलग  हिस्सों   का   नाम   सिंह   द्वार ,  नृत्य मंडप  ,  रंग  मंडप , कोली ,  गर्भगृह   और   परिक्रमा   होगा  ।   मंदिर   का   मुख्य   गेट   मकराना   के सफेद   संगमरमर   से   निर्मित   होगा  , साथ   ही  इसमें   दो   गुम्बद   भी   होंगे  ।

राम   मंदिर   की   इस   संरचना   को   देख  कर   आपके   भी   दिल   में   प्रसन्नता तो   ज़रूर   आई   होगी  ।   अब   यहां   राम   मंदिर   बनता   है   या   मस्जिद  , इसका   फैसला   तो   कोर्ट   के   हाथों   में   है   लेकिन   इतना   ज़रूर   है   कि     अगर   यहां   मंदिर   बना   तो   इस   संरचना   के   हिसाब   से   वो   काफी   सुन्दर होगा  ।

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Uncategorized

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…