Home कोट्स Success Quotes “अपनी कमी ढूंढो” , “काठ की हांडी रोज़ नहीं चढ़ती” |

“अपनी कमी ढूंढो” , “काठ की हांडी रोज़ नहीं चढ़ती” |

0 second read
0
0
1,515

“मन”  “दूसरों  की  कमी  निकालने  में  लगा  है” , “खुद  अच्छाई  से  बचता  है” ,

“जिस  दिन  खुद  पर  विश्वास नहीं रहता” ,” सब  कुछ  खतम  हो  गया  समझो” ,

“भगवान  को  मत  कोसो”  , “सदा  अपने  स्वम  के  कार्यों  का  सम्पादन  करो” ,

“काठ  की  हांडी  रोज़  नहीं  चढ़ती”,”यदि  कोशिश  की” तो “परखचे  उड  जाएंगे” |

Load More Related Articles
Load More By Tarachand Kansal
Load More In Success Quotes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

[1] जरा सोचोकुछ ही ‘प्राणी’ हैं जो सबका ‘ख्याल’ करके चलते हैं,अनेक…